loading...
रोजाना पियें दो घूंट एलोवेरा जूस, फिर जो होंगे फायदे आपको हैरान कर देने वाले!

एलोवेरा वानस्पतिक नाम घृतकुमारी और ग्वारपाठा है। इसे 5,000 वर्ष पूर्व से दवा के रूप मे उपयोग किया जाता रहा है इसे संजीवनी पौधा भी कहते है। और इसकी लगभग 250 उपजातियां भी हैं। इनमें से कुछ  में ही औषधीय गुण होते हैं। इसकी सबसे प्रभावशाली प्रजाति बार्बाडेन्सीस या एलोवेरा है। हमारे शरीर के सम्पूर्ण  विकास के लिए 21 अमीनो एसिड की जरूरत होती है। इनमें से 18 अमीनो एसिड केवल एलोवेरा में पाए जाते  हैं।



क्या है एलोवेरा में ऐसा :-
इसमें ऐसे विटामिन होते हैं। जो की खून की कमी को दूर करते है। रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाते हैं। एलोवेरा का जूस गर्भाशय के रोगों और पेट के विकार दूर करता है। फोड़े-फुंसियों पर भी इसका रस लगाने से फायदा होता है। गुलाब जल में एलोवेरा का रस मिलाकर चेहरे पर लगाने से चेहरा चमकने लगता है।


रोज ऐलोवेरा जूस पीने से होते है ये हैरान कर देने वाले फायदे :-


1. वजन घटाने में सहायक है। 
रोजाना थोड़ा सा एलोवेरा जूस पीने से वजन घटने लगता है। इसे पिने से बार-बार भूख नहीं लगती है। साथ ही, पाचन क्रिया ठीक रहती है।

2. हानिकारक तत्वों को शरीर से बाहर करता है।
इसके नियमित सेवन से प्रदूषण, जंक फूड, स्मोकिंग और ड्रिंकिंग आदि से उत्पन्न अशुद्ध तत्व शरीर से ये बाहर निकल जाते हैं। 

3. दांतों को स्वस्थ करता है।
दांतों का पीलापन साफ होता है। इसे रोजाना पीने से दांतों में कीड़े नही लगते हैं। यह सांसों की बदबू को भी दूर करता है। इसके गरारे करने से मुंह के छाले ठीक हो जाते हैं।

4. रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है।
एलोवेरा जूस एक प्रकार का एनर्जी ड्रिंक है। इसके नियमित पीने से दिन भर ताजगी और स्फूर्ति बनी रहती है।

5. त्वचा और बालों को भी स्वस्थ बनाता है।
एलोवेरा जूस के सेवन से रफ स्किन भी हेल्दी हो जाती है। इसके नियमित सेवन से त्वचा में निखार आता है। रूसी की समस्या भी दूर हो जाती है। बाल हेल्दी और शाइनी हो जाते हैं।

6. एनीमिया में भी है फायदेमंद।
ऐलोवेरा जूस खून की कमी को दूर करता है। इसका 6 से 8इंच का छिला हुआ टुकड़ा, 5-7 तुलसी के पत्ते और 4-5 नीम के पत्ते लेकर थोड़ा पानी डालकर पीस लें। इस मिश्रण को गर्म कर काढ़ा बनाकर पीने से एनीमिया दूर हो जाता है।

7. ब्लड प्रेशर के रोगियों के लिए लाभदायक है।
ऐलोवेरा जूस ब्लड सर्कुलेशन को ठीक करता है। इसलिए यह ब्लड प्रेशर के रोगियों के लिए बहुत लाभदायक होता है। दिल से संबंधी बीमारियों को भी यह दूर कर देता है।

8. लाइलाज बीमारियों में भी है रामबाण।
गिलोए रस 10-20 मिलीग्राम, ऐलोवेरा का रस 10-20 मिलीग्राम, गेहूं का जवारा 10-20 मिलीग्राम, तुलसी के 7 पत्ते, नीम के 2 पत्ते, इन सभी का जूस बनाकर सुबह-शाम लें। यह कैंसर और अन्य कई लाइलाज बीमारियों में दवा का काम करता है।

loading...
हमसे जुड़ने के लिए हमारे फेसबुक पेज को Like करे
loading...

SHARE THIS
Previous Post
Next Post