loading...
दुनिया का सबसे बुजुर्ग 145 साल का शख्स, कई सालों से कर रहा है मौत का इंतजार!

उनकी आंखों के सामने अंधेरा छा चुका है, वह पूरे दिन सिर्फ रेडियो सुनते रहते हैं और अब उनकी इच्छा मरने की है। हम बात कर रहे हैं इंडोनेशिया के उसियम बहगोतो की जो इंडोनेशिया के सरकारी दस्तावेजों के हिसाब से विश्व के सबसे उम्रदराज व्यक्ति हैं।


उसियम बहगोते कहते हैं कि अब वह मरना चाहते हैं। इंडोनेशिया सरकार द्वारा जारी किए गए पहचान कार्ड के अनुसार उनका जन्म 31 दिसंबर 1870 को हुआ था और वह इस समय 145 साल के हैं।


उनकी चार बीवियां थीं जिनमें से अंतिम पत्नी की मौत 1988 में हो चुकी है। उनके सारे बेटे भी मर चुके हैं। अब वह अपने पोतों और परपोतों के साथ रह रहे हैं। गिनेस वर्ल्ड रेकॉर्ड के अनुसार 122 साल उम्र की फ्रांस की महिला जीन कालमेंट सबसे वृद्ध हैं।

मध्य जावा के सरागेन के सुपर सीनियर सिटीजन का कई टीवी चैनलों ने इंटरव्यू लिया है। वह कहते हैं कि उन्होंने सब कुछ देख लिया है और अगर अब वह मर भी जाएं तो उन्हें कोई गम नहीं होगा।

एक इंटरव्यू के दौरान उन्होंने कहा, 'मैं मरना चाहता हूं। मेरे पोते अपने पैरों पर खड़े हो चुके हैं।' इनके एक पोते 
सूर्यान्तो ने कहा कि उसके दादाजी अपनी मौत की तैयारी 122 साल की उम्र से ही कर रहे हैं, लेकिन लगता है यह कभी नहीं आएगी। उनके लिए 24 साल पहले कब्र का पत्थर तैयार किया जा चुका है। उनका परिवार उसियम बहगोतो के लिए उनके बेटों की कब्र के पास ही एक और कब्र बनवा चुका है।

इंडोनेशिया के रेकॉर्ड ऑफिस के कर्मचारियों ने उनकी जन्मतिथी की पुष्टि कर दी है। वह विश्व के सबसे उम्रदराज व्यक्ति बन पाते हैं या नहीं यह सवाल है, क्योंकि रेकॉर्ड्स में अभी नहीं बन पाए हैं। उनकी तरह ही बिना कागजों के अधिक उम्र के लोगों में 171 साल के नाइजीरिया के जेम्स ओलोफिन्तुई और इथोपिया के 163 साल के धाकाबू इब्बा शामिल हैं।


उनके परपोते का कहना है कि उनकी आंखें जा चुकी हैं तो वह अधिकतर समय रेडियो ही सुनते हैं। पिछले 3 महीनों से उन्हें चम्मच से खाना खिलाया जा रहा है। अपनी लंबी उम्र के राज के बारे में सवाल पूछने पर उसियम बहगोतो ने बताया कि उनकी लंबी उम्र का राज धीरज रखना है।
loading...
हमसे जुड़ने के लिए हमारे फेसबुक पेज को Like करे
loading...

SHARE THIS
Previous Post
Next Post