loading...
बलूचिस्तान की आजादी के लिए विद्रोहियों ने अभियान को किया तेज, जर्मनी में फहरा तिरंगा, 'मोदी आगे बढ़ो' के नारे लगे

पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत के विद्रोहियों ने अपने अभियान को तेज करते हुए दुनिया भर में प्रदर्शन करने शुरू कर दिए हैं। 

शनिवार को जर्मनी के लिपजिग शहर में बलूच विद्रोहियों ने राष्ट्रवादी नेता अकबर बुगती की 10वीं पुण्यतिथि पर पाकिस्तान के खिलाफ नारे लगाते हुए उसे आतंकवाद को प्रोत्साहित करने वाला देश करार दिया।

और इसके साथ ही प्रदर्शनकारियों ने भारत से समर्थन की मांग करते हुए 'नरेंद्र मोदी आगे बढ़ो' के नारे लगाए। प्रदर्शनकारियों ने 'तुम कितने (अकबर) बुगती मारोगे, हर घर से बुगती निकलेगा' जैसे नारे भी लगाए।

अकबर बुगती के पोते ब्रहुमदाग बुगती के समर्थन में प्रदर्शनकारियों ने 'कदम बढ़ाओ ब्रहुमदाग बुगती, हम तुम्हारे साथ हैं' का नारा लगाया। बलूच विद्रोहियों के हाथों में बलूचिस्तान का झंडे के अलावा भारत का तिरंगा भी था।

विद्रोहियों ने बलूचिस्तान में पाकिस्तान के उत्पीड़न का मुद्दा उठाते हुए विश्व समुदाय से मदद किए जाने की मांग की।

आपको बता दें की 10 साल पहले पाकिस्तानी सेना के साथ एक मुठभेड़ में बलूच राष्ट्रवादी नेता नवाब अकबर खान बुगती मारे गए थे।

स्विटजरलैंड में रह रहे बुगती ने संयुक्त राष्ट्र की देखरेख में बलूच लोगों के बीच जनमत संग्रह कराने की मांग करते हुए कहा, 'पाकिस्तान सुरक्षा बल मानवाधिकारों के बेइंतहा उल्लंघनों में शामिल रहे हैं। हम लोग किसी भी हाल में पाकिस्तान के साथ अब और नहीं रहना चाहते।'

अपने दादा को श्रद्धांजलि देने के लिए आयोजित एक कार्यक्रम के संबंध में स्विट्जरलैंड गए बुगती ने फोन पर हुई बातचीत में अमेरिका, नेटो देशों, इजरायल और भारत सहित अंतरराष्ट्रीय समुदाय से अनुरोध किया कि वे उनकी लड़ाई में उनकी मदद करें।


उन्होंने कहा कि वह पाकिस्तान सरकार के साथ वार्ता के लिए तैयार हैं लेकिन उन्होंने इस बात पर भी जोर दिया कि आजादी के आंदोलन पर वह पीछे नहीं हटने जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि फ्रांस के क्षेत्रफल के बराबर बलूचिस्तान पाकिस्तान का सबसे बड़ा सूबा है जिस पर पिछले सात दशक से पाकिस्तान का अवैध कब्जा है।
Source@NBT
loading...
हमसे जुड़ने के लिए हमारे फेसबुक पेज को Like करे
loading...

SHARE THIS
Previous Post
Next Post