loading...
राजस्थान में होटल व ढाबों पर हो रहा ऐसा गन्दा काम कि वीडियो हुआ वायरल...

राजस्थान के सीकर जिले के कांवट कस्बे में प्रतिबंधित नशीली दवा अवैध रूप से बेची जा रही है। यहां तक की खांसी को दूर करने के काम में आने वाली दवा को भी युवा वर्ग नशा करने के काम मे ले रहा है। कांवट कस्बे में प्रतिबंधित नशीली दवा होटल, ढाबों व चाय की दुकानों पर आसानी से मिल जाती हैं।



कांवट में नशीली दवा बेचने वाला एक पूरा गिरोह सक्रिय है। सूत्रों की मानें तो यह गिरोह गाड़ी में आकर नशीली दवाओं की सप्लाई छोटे व्यापारियों को करता है। इसके अलावा यह दवा बाइक की डिग्गी में रखकर भी युवाओं तक पहुंचाई जा रही है। हालांकि इन दवाओं को चिकित्सक द्वारा लिखी पर्ची पर रजिस्टर्ड मेडिकल स्टोर से ही खरीदा जा सकता है। 

क्या है वीडियो में?

कांवट में किस तरह से यह दवा आसानी से मिल जाती है। इसका एक वीडियो वायरल हुआ है। इस वीडियों मे दिखाया गया है कि युवाओं के कदम किस तरह से नशे के सौदागरों के पास उठ रहे हैं। इस वीडियो में 98 रुपए कीमत की कोरक्स सीरप के 150 रुपए तक वसूले जा रहे हैं।

शिकायत के बाद भी नही होती कार्रवाई :-

नशीली दवा के मामले में स्थानीय लोगों की माने तो पुलिस को सूचना देने के बाद भी इन पर कोई कार्रवाई नही होती है। ग्रामीणों ने रविवार को कांवट सीएचसी का लोकार्पण करने आये चिकित्सा मंत्री राजेन्द्र सिंह राठौड़ से इस पूरे मामले की शिकायत की है। इस पर चिकित्सा मंत्री ने टीम भेजकर छापेमार कार्रवाई करवाने का आश्वासन दिया है।

खुलेआम बिक रही यह दवा :-


नशे के प्रयोग मे ली जाने वाली दवा कोडीन साल्ट युक्त होती है। यह दवा बाजार में कोरेक्स, रेस्कॉफ, फेंसीड्रिल सहित कई ब्रॉड नेम से खुलेआम बेची जा रही है।
Source@RP
loading...
हमसे जुड़ने के लिए हमारे फेसबुक पेज को Like करे
loading...

SHARE THIS
Previous Post
Next Post