loading...
#UriAttack : शहीद की बेटी मांग - इस हमले का दो मुंहतोड़ जवाब!

जम्मू कश्मीर के उरी सेक्टर में आर्मी बेस कैंप पर हुए हमले में बिहार के गया जिले के बहादुर बेटे सुनील कुमार विद्यार्थी भी शहीद हो गए हैं। पिता की शहादत का गम मनाने के बजाय इस शहीद की बेटी ने साहस के साथ मांग की है कि हमारे देश की सुरक्षा पर हमला करने वालों को करारा जवाब मिलना चाहिए। मेरे पिता ने देश के लिए जान न्यौछावर कर दिए हैं, उनकी शहादत पर मुझे गर्व है।



जम्मू कश्मीर के उडी सेक्टर में रविवार की सुबह हुए आतंकी हमले में शहीद बिहार रेजिमेंट के नायक सुनील कुमार विद्यार्थी के पैतृक गांव बोकनारी में मातमी सन्नाटा छाया हुआ है। 40 वर्षीय शहीद सुनील कुमार की वर्ष 1998 में सेना में नौकरी लगी थी। उनकी पहली पोस्टिंग दानापुर में हुई थी।

पिता का नाम मथुरा यादव माता का नाम कुंती देवी है। मथुरा यादव की तीन संतानोें में सुनील दूसरी संतान थे। इनकी शादी वर्ष 2000 में पहाड़पुर गाँव में हुई थी। इनके चार बच्चे हैं। तीन लड़की और एक 2 वर्ष का लड़का है। पत्नी बच्चों की पढाई के लिए गया में किराये पर रहती हैं।

शहीद का पार्थिव शरीर अभी गांव नही आया है। गांव में हर जगह पाकिस्तान के खिलाफ लोगों में गुस्‍सा नजर आ रहा है। लोग पाकिस्तान की कायराना हमले से काफी आक्रोशित हैं।


जिसने सुना शहीद के परिजनों को सांत्वना देने पहुंच गया। आज भी सुबह से ही लोग उनके घर जाकर उनके परिजनों से मुलाकात कर रहे हैं। घर में चीख पुकार से सांत्वना देने वालों का भी दिल भर आता है। आंखों में आंसू हैं लेकिन अपने बेटे की शहादत पर लोग गर्व भी महसूस कर रहे हैं।
loading...
हमसे जुड़ने के लिए हमारे फेसबुक पेज को Like करे
loading...

SHARE THIS
Previous Post
Next Post