loading...
राजस्थान : पति को गोद में लिए घर-घर जा रही यह बेबस पत्नी, वीडियो देख रो दोगे आप...

गोद में पति...आंखों में बेबसी और जुबां पर मदद की गुहार..। हर किसी के दिल को झकझोर देने वाली यह तस्वीर है राजस्थान के सीकर जिले के गांव गणेश्वर की। यह मजबूरी है इस गांव के धानका मोहल्ले के उस परिवार की जिसका मुखिया पिछले 7-8 साल कैंसर से पीडि़त है।



आलम यह है कि इसका इलाज करवा पाना तो दूर यह परिवार दाने-दाने तक को मोहताज हो रहा है। हकीकत का अंदाजा इस बात से सहज लगाया जा सकता है कि मीना देवी कैंसर पीडि़त अपने पति मुकेश को गोद में लेकर गांव में हर किसी घर के दरवाजे के सामने खड़ी मदद की गुहार लगाती अक्सर नजर आती है देखें विडियो....



मीना देवी ने बताया कि पति मुकेश दिल्ली में मजदूरी करता था। करीब सात साल पहले उसके गाल में कैंसर हो गया। हर संभव इलाज करवाया, मगर कैंसर से पीछा नहीं छूट पाया।

भामाशाह कार्ड बना तो उम्मीद जगी कि अब इलाज हो जाएगा। पति को जयपुर के एसएमएस अस्पताल लेकर गई। वहां ऑपरेशन के लिए तीन लाख रुपए की आवश्यकता जताई गई, जो मेरे बस की बात नहीं थी।

इसलिए वापस गांव आ गई। अब गांव वालों के सामने इस उम्मीद में हाथ फैला रही हूं कि कोई मदद मिल जाए और पति का इलाज हो सके।


मीना देवी ने बताया की वह पति का इलाज करवाने की हर संभव कोशिश कर रही है, मगर गरीबी राह में रोड़ा बनी हुई है। इनके तीन बच्चे हैं। खुद मीना नरेगा में भी मजदूरी करती है।
loading...
हमसे जुड़ने के लिए हमारे फेसबुक पेज को Like करे
loading...

SHARE THIS
Previous Post
Next Post