loading...
OMG! बच्चे के माता पिता ने छुपाया ऐसा राज कि अब डॉक्टरों को करना पड़ा कुछ ऐसा...

सरकारी सूपर स्पेशिएलिटी अस्पताल (एसएसएच) के चिकित्सकों के एक दल ने 18 वर्षीय एक किशोर के शरीर से 18 सेमी लंबी पूंछ को सफलता पूर्वक अलग कर दिया है, जिसे सबसे लंबी पूंछ बताया जा रहा है। इस पूंछ के असमान्य विकास के कारण किशोर को काफी पीड़ा हो रही थी।



न्यूरोसर्जन ने बच्चे के शरीर से अलग की 18 सेमी लंबी पूंछ नागपुर 4 अक्टूबर सरकारी सूपर स्पेशिएलिटी अस्पताल (एसएसएच) के चिकित्सकों के एक दल ने 18 वर्षीय एक किशोर के शरीर से 18 सेमी लंबी पूंछ को सफलता पूर्वक अलग कर दिया है, जिसे सबसे लंबी पूंछ बताया जा रहा है।

इस पूंछ के असमान्य विकास के कारण किशोर को काफी पीड़ा हो रही थी। न्यूरोसर्जरी विभाग के मुख्य डॉक्टर प्रमोद गिरी ने बताया कि परिवार को पहले से ही पूंछ के असामान्य विकास के बारे में पता था, लेकिन वो सामाजिक डर और इससे जुड़े अंधविश्वास के कारण डॉक्टर से संपर्क नहीं कर रहे थे।

इसके अलावा इससे उसके स्वास्थ्य पर कोई प्रभाव नहीं पड़ रहा था। डॉक्टर ने बताया कि सामान्य तौर पर जन्म के समय ही इस तरह के दोष का पता चल जाता है। धीरे-धीरे बड़े होने पर भी इसकी पहचान हो जाती है, लेकिन इस मामले में अभिभावकों के साथ बच्चे ने भी इतने वर्षों तक इस बात को छुपाकर रखा।


जन्म के कुछ महीनों के बाद ही सर्जरी के द्वारा इस दोष को खत्म किया जा सकता था। डॉक्टर ने बताया कि जब लड़के के लिए यह स्थिति काफी पीड़ा दायक हो गई तब उसके अभिभावक उसे लेकर पिछले सप्ताह अस्पताल आए और दो दिन बाद उसका ऑपरेशन हो गया।
loading...
हमसे जुड़ने के लिए हमारे फेसबुक पेज को Like करे
loading...

SHARE THIS
Previous Post
Next Post